ऐसे ऑनलाइन चेक करें की आपके आधार का इस्तेमाल कहाँ कहाँ हुआ है

0
495

 

वर्तमान समय में आधार कार्ड हमारे जीवन का अभिन्न अंग बन गया है क्युकी हमें बहुत सरे चीजो के लिए आधार कार्ड की मांग की जाती है | खता खुलवाना हो ,सिम  लेना हो, गैस लेना हो हर चीज में हमें आधार कार्ड की जरुरत पड़ती है | लेकिन आधार कार्ड की इस बढती मांग के कारण इसके दुरूपयोग की भी संभावना बढ़ गयी है | लेकिन अब आपको चिंता करने की कोई जरुरत नहीं है | क्योंकि अप आप घर बैठे पता कर सकते है की आपके आधार कार्ड का कहा कहा पर इस्तेमाल हुआ है |

घर बैठे पाए जानकारी 

आधार अथॉरिटी यानि  यूआईडीएआई ने एक नई सुविधा शुरू की है, जिसके जरिये आप घर बैठे पता कर सकते हैं कि आपका आधार कार्ड कहां-कहां यूज हुआ है | इस सुविधा का इस्तेमाल कर आप न सिर्फ जान सकेंगे कि आपका आधार कार्ड कहां-कहां यूज हुआ है, बल्क‍ि इसकी बदौलत आपको कुछ गड़बड़ी नजर आती है, तो आप आसानी से इसकी श‍िकायत भी कर सकते हैं |

कैसे पाए जानकारी 

तो चलिए अब हम बताते है की कैसे आप यह सुविधा का लाभ उठा सकते है | इसके लिए आपको UIDAI की ऑफिसियल  वेबसाइट पर जाना होगा. यहां आपको ‘Aadhaar Authentication History’ का विकल्प दिखेगा| आप चाहे तो ऊपर दिए गए लिंक पर सीधे क्लिक कर के भी उस पेज पर पहुच सकते है |

 

STEP – 1

इस पेज पर आपको अपना 12 अंको का आधार नंबर डालना है और साथ ही निचे दिए गए कैप्चा को भी दर्ज करना होगा | इसके बाद आपको GENERATE OTP पर क्लिक करना होगा | क्लिक करते ही आपके verified मोबाइल नंबर पर OTP आ जाएगी | और एक नया पेज खुलेगा |

STEP – 2

इस पेज पर आपको बताना होगा की आपको कब से कब की जानकारी चाहिए | आप केवल 6 महिना पहले की ही जानकारी प्राप्त कर सकते है | आप प्रारंम्भिक तिथि  और अंतिम तिथि का चुनाव कर ले | फिर उसके निचे कितनी सूचनाओ की जानकारी आप चाहते है उसका नंबर भरना है | आप इसमे अधिकतम 50 सूचनाओ की जानकारी प्राप्त कर सकते है | उसके बाद OTP का आप्शन मिलेगा जो आपके मोबाइल में SMS के माध्यम से आ चूका होगा | OTP इंटर करते ही आपको उस समय सीमा अवध‍ि के दौरान की सारी जानकारी मिल जाएगी|

गड़बड़ी नजर आने पर जरुर करे  श‍िकायत

अगर आपको हिस्ट्री देखकर कुछ भी गड़बड़ी नजर आई, तो इसकी श‍िकायत यूआईडीएआई से 1947 पर कॉल कर के कर सकते हैं| दरअसल जब भी आपके आधार को यूज किया जाता है, तो इसे यूज करने के लिए हर संबंध‍ित व्यक्‍त‍ि को यूआईडीएआई को रिक्वेस्ट भेजनी होती है. इसके आधार पर ही यूआईडीएआई आपका डाटा यहां पेश करता है.

 

 

Leave a Reply