द्रौपदी मुर्मू का जीवन परिचय – Droupadi Murmu Biography Hindi

0
141

द्रौपदी मुर्मू का जीवन परिचय

Droupadi Murmu Biography Hindi

हमारे देश की प्रथम महिला राष्ट्रपति प्रतिभा देवी सिंह पाटिल थी। मगर अब इस लिस्ट में द्रौपदी मुर्मू का नाम भी जुड़ गया है . वह न सिर्फ भारत की दूसरी महिला राष्ट्रपति बनी है बल्कि भारत की पहली महिला आदिवासी राष्ट्रपति भी बनी है . उन्होंने राष्ट्रपति चुनाव में विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा को हट=राया है  . अब तक तो द्रौपदी मुर्मू के बारे में बहुत लोग नहीं जानते थे लेकिन  राष्ट्रपति  बनते ही हर कोई उनके बारे में जानना चाहता है .  तो चलिए आज इस पोस्ट में आपको द्रोपदी मुर्मू की बायोग्राफी बताते  है .

द्रौपदी मुर्मू कौन है?

द्रौपदी मुर्मू एक सांसद और भाजपा की नेता है। वह झारखंड की राज्यपाल भी रह चुकी है। द्रौपदी मुर्मू देश की पहली आदिवासी महिला गवर्नर भी रह चुकी है। वह आदिवासी संथाल परिवार से आती है। ऐसे में राष्ट्रपति पद बनने के बाद  पूरे आदिवासी समाज की नजर उन पर है, ताकि वे आदिवासियों की स्थिति सुधार सकें।

द्रौपदी मुर्मू का जन्म और परिवार (Birth and Family of Draupadi Murmu)

द्रौपदी मुर्मू का जन्म 20 जून 1958 के दिन आदिवासी परिवार में ओडिशा के मयूरभंज जिले के बैदपोसी गांव में हुआ था। उनके पिता का नाम बिरंचि नारायण टुडे था। अपने गांव के सरपंच थे। द्रोपदी का विवाह शरण मुर्मू से हुआ। उनके तीन बच्चे हैं पर दुर्भाग्य से उनके दो बेटे और उनके पति की मौत हो गई और वे सिर्फ अपनी इकलौती बेटी के साथ रहती हैं। जिसका नाम की इतिश्री मुर्मू है

द्रौपदी मुर्मू की शिक्षा (Draupadi Murmu’s education)

जैसा कि अभी मैंने बताया कि द्रौपदी मुर्मू का जन्म बहुत ही पिछड़े आदिवासी इलाके में हुआ था। उनका बचपन अभाव एवं गरीबी में बिता । तबभी भी उन्होंने उन्होंने ग्रेजुएशन तक पढ़ाई की। उनकी प्रारंभिक शिक्षा उनके ही इलाके के प्राथमिक स्कूल में हुई और ग्रेजुएशन के लिए वह भुवनेश्वर शहर गई। उसके बाद भुवनेश्वर शहर में ही रामा देवी महिला कॉलेज में दाखिला लिया और स्नातक की डिग्री प्राप्त की।

सिंचाई विभाग में क्लर्क की नौकरी की

द्रौपदी मुर्मू ने स्नातक के बाद अपने कैरियर की शुरुआत एक शिक्षक के रूप में की थी। वह रायरंगपुर में श्री इंटीग्रल एजुकेशन सेंटर में सहायक शिक्षिका के रूप में काम करती थी। उसके बाद उन्होंने ओडिशा सरकार के सिंचाई विभाग में जूनियर असिस्टेंट की नौकरी मिली ।

द्रौपदी मुर्मू का पॉलिटिक्स करियर (Draupadi Murmu’s political career)

द्रौपदी मुर्मू ने 1997 में उड़ीसा के रायपुर नगर पंचायत का चुनाव लड़ी और जीती भी। और इसी किसी के साथ उनका राजनीतिक करियर भी यहीं से शुरू होता है l 2000 में रायपुर से पहली बार विधायक बनी। उसके बाद उन्हें 2002 से 2004 के बीच भाजपा सरकार में मंत्री भी रही।

इसके अलावा वे 2002 से 2009 तक भारतीय जनता पार्टी की अनुसूचित जाति के मोर्चे में राष्ट्रीय कार्यकारिणी मेंबर बनी।

18 मई 2015 के दिन द्रौपदी मुरमू झारखंड का राज्यपाल बनाया गया और 12 जुलाई 2021 तक राज्यपाल के तौर पर सेवा देने के बाद उनका नाम राष्ट्रपति उम्मीदवार के तौर पर आगे आया है।

द्रौपदी मुर्मू को दिए गए पुरस्कार

2007 में ओडिशा विधानसभा के द्वारा द्रौपदी मुर्मू को नीलकंठ पुरस्कार सर्वश्रेष्ठ विधायक के लिए दिया गया था।

द्रौपदी मुर्मू की संपत्ति (Draupadi Murmu’s property)

द्रौपदी मुर्मू की संपत्ति अन्य राजनेताओं की तुलना में काफी कम है उनकी संपत्ति केवल 10 लाख रुपए की है।

मुझे उम्मीद है कि राष्ट्रपति चुनाव में द्रोपदी मुर्मू जी राष्ट्रपति बनेगी। आपका क्या ख्याल है मैं कमेंट करके जरूर बताइए। आपको इस पोस्ट के जरिए द्रोपदी मुर्मू के विषय में पूरी जानकारी मिल गई होगी ऐसी आशा करता हूं। आप ऐसी अद्भुत चमत्कारी अपने दोस्तों को शेयर करें।

Leave a Reply